Breaking :

स्लिम रहने और मोटापे से बचाने में जीन सहायक, रिपोर्ट

स्लिम रहने और मोटापे से बचाने में जीन सहायक, रिपोर्ट

स्लिम रहने और मोटापे से बचाने में जीन सहायक, रिपोर्ट

genetics diseases, health report, research report

नियमित रूप से जिम जाने और डाइटिंग पर रहने के बावजूद यदि आप मनचाहा परिणाम नहीं देखते हैं, तो शायद आपका जीन इसका एक मुख्य कारण हो सकता है। शरीर को पतला रखने में न केवल स्वस्थ वर्धक भोजन और व्यायाम बल्कि स्कीनी जीन भी मुख्य रोल अदा करता है। शोधकर्ताओं ने कहा कि जब वजन को बनाए रखने की बात आती है तो पतले लोगों को आनुवांशिक लाभ होता है।(genetics diseases, health report, research report)


कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के नेतृत्व में इस बात पर अध्ययन किया गया कि कुछ लोग आसानी से अपने वजन को नियंत्रण में रखते हैं जबकि अन्य का आसानी से वजन बढ़ जाता है। उन्होंने पाया कि पतले लोगों का genetic risk score(आनुवंशिक जोखिम स्कोर ) बहुत कम था साथ ही  कम genetic variants(आनुवंशिक वेरिएंट) थे, जो कि किसी व्यक्ति के अधिक वजन होने की संभावना को बढ़ाता है।

‘लुका छुपी’ ट्रेलर: कार्तिक आर्यन और कृति सेनन के लिव-इन रिलेशन में कॉमेडी का तड़का

शोधकर्ता ने पहली बार पाया कि स्वस्थ पतले लोग आमतौर पर पतले होते हैं क्योंकि उनके पास ऐसे जीन की संख्या कम होती है जो किसी व्यक्ति के अधिक वजन की संभावना को बढ़ाता है ऐसा इसलिए नहीं कि वे नैतिक रूप से श्रेष्ठ हैं, जैसा कि कुछ लोग सुझाव देना पसंद करते हैं,’ वर्सिटी के प्रोफेसर सदाफ फारूकी ने कहा। उन्होंने ने कहा, “लोगों को उनके वजन के बारे में  निर्णय लेना और उनकी आलोचना करना आसान है, लेकिन विज्ञान दिखाता है कि चीजें कहीं अधिक जटिल हैं। उन्होंने कहा, ” हमारे वजन पर हमारा जितना नियंत्रण है, हम उससे कम ही सोचते हैं। ”


पीएलओएस जेनेटिक्स जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने कुछ 14,000 लोगों के डीएनए की तुलना की, जिसमें 1,622 पतले लोग, 1,985 गंभीर रूप से मोटे लोग और 10,433 सामान्य वजन वाले लोग शामिले थे।

उपवास उम्र सम्बंधित रोग से लड़ने में सहायक, रिपोर्ट

चार में से तीन लोगों के पतले और स्वस्थ होने का पारिवारिक इतिहास था और टीम को कुछ ऐसे आनुवांशिक परिवर्तन देखने को मिले जो पतले लोगों में काफी आम थे, जो बताता है कि वे उन्हें नए जीन और जैविक तंत्र को निर्देश दे सकता है जो कि लोगों को पतले रहने में मदद करता है। 

यह देखने के लिए कि किसी व्यक्ति के वजन पर इन जीनों का क्या प्रभाव पड़ता है, शोधकर्ताओं ने आनुवंशिक जोखिम स्कोर की गणना करने के लिए विभिन्न आनुवंशिक वेरिएंट के योगदान को जोड़ा।


Related Posts

सोचते वक़्त हम अपना सिर क्यों खुजलाते हैं?

Comments Off on सोचते वक़्त हम अपना सिर क्यों खुजलाते हैं?

leave a comment

Create Account



Log In Your Account