Breaking :

अति-प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और समय से पहले मौत में सम्बन्ध! ये खाद्य पदार्थ कैंसर, मधुमेह और मोटापे को बढ़ाने में सहायक, रिपोर्ट

अति-प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और समय से पहले मौत में सम्बन्ध! ये खाद्य पदार्थ  कैंसर, मधुमेह और मोटापे को बढ़ाने में सहायक, रिपोर्ट

अति-प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और समय से पहले मौत में सम्बन्ध! ये खाद्य पदार्थ कैंसर, मधुमेह और मोटापे को बढ़ाने में सहायक, रिपोर्ट

Ultra processed food, Research report

जैसा कि आप जानते हैं अति-प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं हैं। लेकिन, इन खाद्य पदार्थ में चीनी, नमक और अन्य चीजों की उच्च मात्रा अधिकांश लोगों के आहार में तेजी से शामिल हो रहे हैं। अब, पहली बार एक प्रमुख अध्ययन में सामने आया है कि अल्ट्रा-प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थ खाने से जल्द मृत्यु का खतरा बढ़ जाता है। फ्रांस के नए शोध में पाया गया कि अल्ट्रा-प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन 7 साल की अवधि में मृत्यु के बढ़ते जोखिम से जुड़ा है। (Ultra processed food, Research report)


जेएएमए इंटरनल मेडिसिन में प्रकाशित अध्ययन में पाया गया कि ‘अध्ययन के दौरान अल्ट्रा-प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों की बढ़ती खपत और मृत्यु दर के जोखिम के बीच एक मामूली संबंध पाया गया’ , यह अध्ययन अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन द्वारा प्रकाशित करवाया गया। इस निष्कर्ष पर आने के लिए, शोधकर्ताओं ने 2009 और 2017 के बीच हजारों फ्रांसीसी लोगों के आहार की निगरानी की।


शोधकर्ताओं ने पाया कि अध्ययन में केवल एक संबंध है और यह साबित नहीं हुआ कि अति-प्रसंस्कृत खाद्य के खपत के समय से पहले मौत हो जाती है, ये खाद्य पदार्थ आपके जीवन काल के हृदय रोग, कैंसर और अन्य बीमारियों के जोखिम को बढ़ाने में कई तरह से कम कर सकते हैं।

अपनी प्रतिभा को कैसे पहचानें, यह आपकी रचनात्मकता को बढ़ाने में कैसे सहायक है?

अध्ययन के अनुसार, अति-प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ वे होते हैं जिनमें कई तत्व होते हैं और कई औद्योगिक प्रक्रियाओं के माध्यम से निर्मित होते हैं। इन खाद्य पदार्थों में चीनी, नमक, वसा और तेल के अलावे स्वाद, रंग, मिठास, और पायसीकारी जैसे योजक शामिल हैं। अल्ट्रा-प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों के उदाहरण तैयार भोजन, आइसक्रीम, कैंडीज, एनर्जी बार, प्रोसेस्ड मीट, पैकेज्ड स्नैक्स और कुकीज, केक और पेस्ट्री आदि हैं।

नासा के अनुसार वैश्विक स्तर पर पेड़-पौधे लगाने में भारत और चीन सबसे आगे

अति-प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों को हृदय रोग, टाइप 2 मधुमेह, मोटापा, कैंसर आदि के बढ़ते जोखिम से जोड़ा गया है। इन खाद्य पदार्थों में उच्च स्तर के सोडियम, चीनी और निम्न स्तर के फाइबर होते हैं, जो अच्छे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। इसके अलावा, इन खाद्य पदार्थों में रसायनों का उपयोग या निर्माण प्रक्रिया के दौरान उत्पादित हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है। (Ultra processed food, Research report)


Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account